Breaking News
Home / समाचार / शुद्ध शाकाहारी हैं क्रिकेट के ये 5 खिलाड़ी, नंबर 4 तो मीट को छूता तक नहीं

शुद्ध शाकाहारी हैं क्रिकेट के ये 5 खिलाड़ी, नंबर 4 तो मीट को छूता तक नहीं

क्रिकेट को लेकर दीवानगी आज से नहीं बरसो से है,और भारत में सबसे ज़्यादा पसंद किये जाने वाला खेल बन गया है,क्रिकेट के खिलाड़ियो के फंस भी आज इतने है जैसे किसी सुपर स्टार के फैन होते है,और अपने पसंदीदा खिलाड़ी की पसंद न पसंद हर फैन जानना चाहता है,हम बात कर रहे है, भारतीय टीम के कुछ ऐसे खिलाड़ी की,जो अपने खान-पान को लेकर काफी अलग ही रहते हैं।उन्होंने भले ही पहले मांसाहारी खाया हो लेकिन आज वह शुद्ध शाकाहारी बन गए हैं। नंबर 4 है जिसने अभी तक मीट को हाथ तक नहीं लगाया, वह सबसे ज्यादा शाकाहारी खिलाड़ी है आइए जानते हैं 5 खिलाड़ियों के बारे में जो हो गए है

शाकाहारी- भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की बात करे तो ये अब शुद्ध शाकाहारी है।धोनी का खानपान पहले मासाहरी था,फिर मीट मांस को छोड़कर अब ज्यादातर शुद्ध शाकाहारी खाना खाते हैं। क्योंकि ये अपनी सेहत का काफी ध्यान में रखते हैं।

भारतीय टीम के पूर्व ओपनर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग जिन्होंने अपने टेस्ट करियर में तिहरा शतक लगाने वाले बेहतरीन बल्लेबाजों को धूम्रपान से सख्त नफरत है।और खाने के मामले में भी ये शुद्ध खाना पसंद करते है, और यह सबसे ज़्यादा शुद्ध शाकाहारी खाना खाते हैं ।

भारतीय टीम के वर्तमान कप्तान विराट कोहली खाने के मामले में अपने दिल की सुनते है,यु तो अपने बल्लेबाजी से कई रिकॉर्ड बनाए हैं। उन्होंने पहले खाने में सभी तरह के खाने कहते थे। लेकिन जब से यह अपनी सेहत पर ध्यान देने लगे हैं। तभी से यह ज्यादातर शाकाहारी खाने का उपयोग करते हैं और धूम्रपान से दूर रहते है।

भारतीय टीम के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज रोहित शर्मा शाकाहारी खाना कहते है, जिन्होंने अब तक सबसे शुद्ध खाना वह भी शाकाहारी खाते हैं। इन्हें मांसाहारी खाने से एलर्जी रहती है। क्योंकि यह अपनी सेहत पर ज्यादा ही ध्यान देते हैं।उन्होंने कभी भी कोई धूम्रपान या नशे का सेवन नहीं किया है।रोहित अपने वनडे करियर में 3 दोहरे शतक लगाने वाले बल्लेबाज है।

v

भारतीय टीम के सबसे चहेती सचिन तेंदुलकर ने अपने क्रिकेट करियर में बहुत से रिकॉर्ड बनाए हैं।इसी तरह इन्होने खानपान में शाकाहार अपना कर भी यह रिकॉर्ड बनाया है। ये मांसाहारी या मीट को छोड़कर अब सिर्फ शाकाहारी का सेवन करते हैं।